एसबीआई के हैं ग्राहक तो जरूर ध्यान दें इस ई-मेल का

0
493



साइबर अपराध का शिकार होने से आपको बचाने के लिए देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने जागरूक करना शुरू कर दिया है। बैंक की तरफ से सभी ग्राहकों को एक संदेश ई-मेल से भेजा जा रहा है। अगर यह ई-मेल आपको भी मिला है तो फिर इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें। इस मेल को अगर नजरअंदाज किया गया तो फिर आप भारी नुकसान उठा सकते हैं।

यह है संदेश

प्रिय ग़्राहक,

!!!सावधान!!! दूरभाष/ एसएमएस/ ईमेल/ सोशल मीडिया से सूचित पुरस्कार/लॉटरी /गिफ्ट /नौकरी /सस्ती वस्तु उपलब्ध कराने वाले प्रस्ताव के लालच में न आयें एवं संबंधित शुल्क /कर /  अग्रिम की राशि खाते में जमा मांगने वाले धूर्त प्रयासों से खुद भी बचें और दूसरों को भी बचाएं।

अपने खाते से संबंधित जानकारी अंजान व्यक्तियों से कदापि साझा न करें। इनका अवैध प्रयोग किया जा सकता है।



हमारे बैंक या हमारे कोई प्रतिनिधि, ग़ाह्कों के व्यक्तिगत जानकारी जैसे कि एटीएम पिन/ इंटरनेट पासवर्ड, वन टाइम पासवर्ड/ सीवीवी संख्या के लिए कभी भी ई-मेल / एसएमएस दूरभाष का प्रयोग नहीं करते है।

आप इस तरह के लुभावने प्रस्ताव / घटना की सूचना नजदीकी बैंक शाखा एवं पुलिस अधिकरी के पास अविलम्ब दे।

इसलिए जारी किया संदेश

एसबीआई ने यह संदेश इसलिए जारी किया है, क्योंकि साइबर फ्रॉड कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। साइबर अपराधी एसबीआई का कर्मचारी बनकर अभी भी लोगों के साथ धोखाधड़ी की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।

कार्ड ब्लॉक करने की देते हैं धमकी

फोन के जरिए कार्ड अपडेट करने के बहाने लोगों से उनका कार्ड नंबर, सीवीवी और एटीएम पिन की जानकारी मांगी जाती है। जब कोई ग्राहक नंबर नहीं देता है तो फिर उसका कार्ड ब्लॉक करने की धमकी भी दी जाती है। धमकी देने के बाद कई ग्राहक डर जाते हैं और अपनी सभी जानकारी दे देते हैं। इसके बाद उनका खाता खाली हो जाता है। इस तरह के करोड़ों मामले पुलिस और बैंक के पास आते हैं, लेकिन हल नहीं निकलता है।



SHARE
Previous articleRailways
Next articleGST on banks

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here